क्या रिलेशनशिप से ज्यादा सिंगल होना है मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा ?

आजकल के ज्यादातर युवा किसी ना किसी के साथ रिलेशनशिप में होते हैं । उनमें से कुछ लोग ऐसे भी हैं जो कि, रिलेशनशिप तो हैं लेकिन अपने पार्टनर के साथ खुश नहीं है । दरअसल, लोगों का मानना है कि, जो भी रिलेशनशिप में है या शादीशुदा है वही सबसे ज्यादा खुश है,  जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है । आपको बता दें कि, सिंगल होना मानसिक स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा है, और यह हम इसलिए कह रहे हैं क्यूँकि इस बात पर सांइटिस्ट ने भी मोहर लगाई है ।

उनका कहना है कि, सामने आई रिसर्च के मुताबिक रिलेशनशिप या शादीशुदा लोगों से ज्यादा खुश आज के समय में सिंगल लोग हैं । रिलेशनशिप को लेकर कई तरह के अध्ययन होते रहते हैं। ऐसा ही एक अध्ययन साल 2016 में हुआ था जिसमें बताया गया था कि सिंगल लोग शारीरिक और मानसिक तौर पर शादीशुदा और रिलेशनशिप में रहने वाले लोगों से ज्यादा तंदुरुस्त होते हैं। यह अध्ययन यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफॉर्निया ने किया था।

बता दें कि, जब इस मामले को लेकर लगभग 800 लोगों से सवाल किए गए तो, सभी ने अपनी-अपनी राय दी । जब उसका निष्कर्ष निकाला गया तो, ज्यादातर लोगों का भी यही मानना है कि, आज के समय में सिंगल होना ही सबसे सही है।

ज्यादातर देखा गया है कि, जो लोग रिलेशनशिप में रहते हैं वह अपने पार्टनर के व्यवहार को लेकर काफी परेशान रहते हैं । जिसका असर उनके काम में भी पड़ता है इतना ही नहीं उनके शरीर में भी इसका असर काफी पड़ता है । कई लोग इन सब से परेशान हो कर नशे का सेवन करने लगते हैं जो कि शारीरिक तौर पर नुकसानदायक है । यह आपके शरीर के साथ मानसिक स्वास्थ्य पर भी असर पड़ता है । वहीं बात अगर सिंगल लोगों की करें तो वह रिलेशनशिप में ना पड़ कर अपने पर ज्यादा ध्यान देते हैं । इससे उन्हें करियर में भी आगे बढ़ने का मौका मिलता है।

You may also like...