श्वेता के घर में बंद दरवाजे के पीछे की दिल दहला देने वाली कहानी, जब सौतेले पिता ने की थी ये करतूत…

एक्ट्रेस श्वेता तिवारी के घर में आख़िर ऐसा क्या हुआ? श्वेता और उसकी बेटी पलक को पुलिस तक जाना पड़ा जिस कारण घर के बंद दरवाजे के पीछे की कई दर्दभऱी कहानियां निकल कर सामने आ रही हैं. रिपोर्ट्स के अनुसार कहा गया कि घरेलू विवाद, लड़ाई-झगड़े से तंग आकर श्वेता अपनी बेटी पलक के साथ पति अभिनव कोहली के खिलाफ पुलिस के पास शिकायत करने पहुंची.

श्वेता ने अभिनव पर गंभीर आरोप लगाए है . तबसे सोशल मीडिया पर गॉसिप्स का सिलसिला शुरू हो गया जो जो थमने का नाम नहीं ले रहा. कुछ रिपोर्ट्स में तो कहा गया कि ये एक मामूली पारिवारिक विवाद था जो पुलिस तक पहुंचने पर सुलझ गया था. हालांकि वास्तव में श्वेता के घर की पूरी कहानी क्या है जिसके खिलाफ मां-बेटी को पुलिस के पास जाना पड़ा? श्वेता की बेटी पलक ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट करके पूरी दास्तां सुनाई है

पलक ने एक ब्लैक इमेज पोस्ट की है जिसके साथ कैप्शन में उन्होंने अपने दिल की बात शेयर की है. पलक ने लोगों से कहा है कि मीडिया उन्हें कभी भी पूरी बात नहीं बता सकेगा. क्योकि मरी माँ और मुझे जो बर्दाश्त करना पड़ा है वो सिर्फ हम जानते है मीडिया नहीं या कोई बाहर वाला नहीं।

 

View this post on Instagram

 

RIP SELFIES 🥺

A post shared by Palak Tiwari (@palaktiwarii) on Jul 8, 2019 at 1:12am PDT

पलक ने कहा, “सबसे पहले तो मैं हर उस शख्स को शुक्रिया कहना चाहूंगी जिसने हमारी फिक्र की और हमें सपोर्ट किया. दूसरी बात ये मैं अपनी सफाई में इतना कहना चाहूंगी कि मीडिया में जो मुजपर और मरी माँ पर आरोप लगाए जा रहे हैं उनका कोई तथ्य नहीं है

पलक ने कहा, “सिर्फ मेरी मां ही नहीं बल्कि मैं भी कई बार घरेलू हिंसा का शिकार हो चुकी हूं, जिस दिन शिकायत दर्ज की गई यदि उस दिन को छोड़ दें तो मेरे सौतेले पिता अभिनव कोहली ने मेरी मां को नहीं मारा. पलक ने लिखा मेरी मां ने अपनी दोनों शादियों में कितनी दृढ़ता और साहस दिखाया है.”

पलक ने कहा, “यह किसी का घर परिवार है जिसके बारे में आप लिख रहे हैं, किसी की जिंदगी है जिस पर आप चर्चा कर रहे हैं. खुशकिस्मत हैं वो महिलाऐ जो कभी ऐसे घृणित घटनाक्रम का हिस्सा नहीं बनीं,पलक ने कहा “जिन लोगो को पूरी जानकारी नहीं है उन लोगों को कोई हक़ नहीं है किसी की छवि पर कमेंट करने का”.

पलक ने ये भी कहा कि ये वो वक्त है जब मुझे मेरी मां के लिए खड़े होना चाहिए. मेरी माँ सबसे मजबूत महिला हैं जिन्हें मैं जानती हूं पलक ने कहा मैने उनको संघर्ष करते देखा है उनके हर दिन को चढ़ते और ढलते देखा है.

Loading...

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *